Now Playing :

आयुष्मान खुराना को भारत सरकार से मिली अहम जिम्मेदारी, बाल यौन शोषण के खिलाफ फैलाएंगे जागरूकता | नयी बॉलीवुड खबरे & Gossip

आयुष्मान खुराना को भारत सरकार से मिली अहम जिम्मेदारी, बाल यौन शोषण के खिलाफ फैलाएंगे जागरूकता

By - मनोज वशिष्ठ - जागरण.कॉम

OCTOBER 22,2019

आयुष्मान खुराना
आयुष्मान खुराना को भारत सरकार की ओर से एक बड़ी ज़िम्मेदारी दी गयी है। आयुष्मान यूनिसेफ के साथ मिलकर बच्चों के यौन शोषण के खिलाफ लोगों को जागरूक करेंगे। इसके लिए आयुष्मान ने हाल ही में एक वीडियो भी शूट किया है।

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय बच्चों लोगों को POCSO Act के तहत मिलने वाली कानूनी सहायता और सुरक्षा के लिए जागरूक करना चाहता है। इस बारे में आयुष्मान का कहना है कि हमें ऐसे अपराधों के लिए ज़्यादा सतर्क रहने की ज़रूरत है। ऐसे अपराधों के ख़िलाफ़ फौरन आवाज़ उठानी चाहिए और अधिकारियों को इससे अवगत करवाना चाहिए।

आयुष्मान की ओर से जारी स्टेटमेंट में कहा गया है- ``एक जागरूक शहरी होने के नाते, मैं हमेशा ऐसे मामलों के बारे में लोगों को बताना चाहता हूं, जो देश के लिए अहम हैं और जिन पर तुरंत ध्यान देने की ज़रूरत है। पोक्सो के लिए जागरूक फैलाना मंत्रालय का बेहद अहम क़दम है। इस कानून के तहत बच्चों की यौन शोषण से सुरक्षा की जाती है और उन्हें कानूनी सहायता मुहैया करवाई जाती है। बच्चों के ख़िलाफ़ होने वाले अपराध सबसे जघन्य होते हैं और मैं देश के भविष्य की सुरक्षा के लिए यूनिसेफ और सरकार के इस क़दम की सराहना करता हूं।``

इस केंपेन का उद्देश्य सोशल मीडिया, टीवी और सिनेमा के ज़रिए देशवासियों तक पहुंचने का है, जिसमें आयुष्मान मदद करेंगे। हाल के कुछ सालों में आयुष्मान अपनी फ़िल्मों के ज़रिए मध्यमवर्गीय भारत का चेहरा बन चुके हैं। ऐसे में आयुष्मान इस केंपेन में मददगार साबित हो सकते हैं।

आयुष्मान के करियर की बात करें तो अब उनकी फ़िल्म बाला रिलीज़ होने वाली है, जिसमें वो एक ऐसे युवक का रोल निभा रहे हैं, जवानी में ही जिसके बाल चले जाते हैं। इससे पहले इस साल आयुष्मान की ड्रीम गर्ल और आर्टिकल 15 रिलीज़ हो चुकी हैं। इन दोनों ही फ़िल्मों में आयुष्मान बिल्कुल अलग भूमिकाओं में नज़र आये। आर्टिकल 15 में उन्होंने एक संवेदनशील और ईमानदार पुलिस अफ़सर का रोल निभाया तो ड्रीम गर्ल में वो एक हल्के-फुल्के अंदाज़ में दिखे। दोनों ही फ़िल्में बॉक्स ऑफ़िस पर सफल रही थीं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.OK